NCERT Solutions for Class 8 English It So Happened Chapter 6 The Fight

NCERT Solutions for Class 8 English It So Happened Chapter 6 The Fight

Click here to get access to the best NCERT Solutions for Class 8 English. Each and every question of NCERT Solutions for Class 8 English It So Happened Chapter 6 The Fight has been answered with easy to download solutions in PDF format.

The Fight NCERT Solutions for Class 8 English It So Happened Chapter 6

The Fight NCERT Text Book Questions and Answers

The Fight Comprehension check (Page 49)

Question 1.
In what way is the forest pool different from the one which Ranji knew in the Rajputana desert ?
Answer:
Ranji was aware of only sticky, muddy pools in the Rajputana desert. Buffaloes would swallow in them and women washed clothes.But he found the forest pool to be quite different. Its water was clean and transparent. One could see the smooth, round pebbles at its bottom. A small stream emerged from a cluster of rocks to feed the pool.

Question 2.
The other boy asked Ranji to ‘explain’ himself.
(i) What did he expect Ranji to say ?
(ii) Was he, in your opinion, right or wrong to ask this question?
Answer:
(i) He expected Ranji to explain what he was doing there.
(ii) In my opinion, he was not right in asking this question. That was a public place and anybody could go there.

Question 3.
Between Ranji and the other boy, who is trying to start a quarrel ? Give a reason for your answer.
Answer:
Ranji, from the very beginning, tries to be quite friendly. But the other boy is trying to start a quarrel. He became hostile and said, “This is my pool and I always swim alone.” He also strode up to Ranji to settle the matter. When Ranji did not run away, he said, “I will have to beat you.” Thus, it is obvious that the other boy is trying to start a quarrel by provoking Ranji.

Question 4.
“Then we will have to continue the fight,” said the other.
(i) What made him say that ?
(ii) Did the fight continue ? If not, why not ?
Answer:
(i) He said this when Ranji told him that he would not leave the pool.
(ii) No, the fight did not continue. The other boy made Ranji his friend, when he assured him (the other boy)to teach him to dive and swim in the pool.

The Fight Comprehension check (Page-53)

Question 1.
What is it that Ranji finds difficult to explain at home?
Answer:
Because of the fight with the other boy Ranji had cuts and bruises that showed on his face, legs and arms. Ranji finds it difficult to explain at how he got these cuts
and bruises.

Question 2.
Ranji sees his adversary in the bazaar.
(i) What does he wish to do ?
(ii) What does he actually do, and why ?
Answer:
(i) Ranji wished to turn away and look elsewhere after seeing his opponent in the hazaar. He also wished to throw away the lemonade bottle at his enemy.
(ii) But actually Ranji “stood his ground” and looked angrily at the other boy. He did so because the other boy was his opponent or enemy.

Question 3.
Ranji is not at all eager for a second fight. Why does he go back to the pool, then ?
Answer:
After the first fight, Ranji felt weak and lazy. So, he was not eager for a second fight. His body was stiff and sore. However, he goes back to the pool. He thinks that if he did not turn up at the pool, it would be acceptance of the defeat. If he surrendered he would be defeated forever. Though he would be beaten many times yet it would secure his right to the pool for a long time.

Question 4.
Who was the better swimmer? How do you know it?
Answer:
Ranji was definitely the better swimmer out of them. He could swim the length of the pool a dozen times without being tired. He could also dive nicely, which the other boy could not do.

Question 5.
What surprises the warrior ?
Answer:
Ranji’s exceptional swimming skill surprises the warrior. Ranji could dive straight into the water, cuts through it and surfaces with hardly a splash.

Question 6.
Now that they are at the pool, why don’t they continue the fight ?
Answer:
Ranji and the other boy had come to the pool to have another fight. But being surprised and influenced by Ranji’s swimming and diving skill, he befriends him. That is why they did not continue the fight.

Question 7.
Ranji’s superiority over the other boy is obvious in the following :

physical strength, good diving, his being a fighter, sense of humour, swimming under water, making a good point, willingness to help.

Underline the relevant phrases.
Answer:
Good diving, swimming under water, making a good point and willingness to help are the relevant phrases which show Ranji’s superiority over the other boy.

Question 8.
What, according to you, makes the two adversaries turn into good griends in a matter of minutes ? Explain it as you have understood it.
Answer:
It was Ranji’s extraordinary skill in swimming and diving that greatly impressed the other boy. Ranji dived straight into the water and showed his superiority to the other boy, Suraj. That made the two adversaries turn into good friends in a matter of minutes.

The Fight Exercise Questions and Answers

Discuss the following topics in small groups.

Question 1.
Is fighting the only way of resolving differences of opinion? What else can be done to reach a mutually acceptable settlement ?
Answer:
For discussion at class level. However, a brief answer is given below :
It is quite natural amongst human beings to have differences of opinions amongst themselves. But I think fighting should be the last resort to settle the differences of opinions. There are so many ways to resolve the differences, for instance, these can be done by mutual negotiations and discussions. This is also true about the different nations who have differences. Instead of resorting to war, they should go for amicable negotiations. War can prove too destructive in modern times.

Question 2.
Have you ever been in a serious fight only to realise later that it was unnecessary and futile ? Share your experiences/views with others frankly and · honestly.
Answer:
Yes, many a times, I have got agitated over small matters and had a serious fight with my dear friends. It is mostly caused by some sort of misunderstanding. For some time we remain annoyed with each other or even stop talking also. But later on, I always realise that I have been wrong. I feel so when the misunderstanding is removed. I get agitated first, but I am also the first to resolve the matter and apologise, if necessary. I think, when I grow up, I will be more mature to control myself and won’t indulge in fights.

Question 3.
Why do some of us find it necessary to prove that we are better than others ? Will you be amused or annoyed to read the following sign at the back of the car in front of you? I may be going slow but I am ahead of you.
Answer:
A lot of people have the tendency, like the warrior in the story, to prove themselves superior to others. But one may be superior in one aspect and the other may be superior in some other things. For instance, the warrior may have claimed to be more powerful, but Ranji was better than him in swimming and diving. I don’t like people like the owner of the car who had put the sign: ‘I may be going slow but I am ahead of you’. It does not reflect good taste. I don’t get amused at such things. I don’t like people who show off and try to prove themselves better.

The Fight Introduction

Ranji discovered a pool in the forest and jumps into it for a swim. Then another boy comes who claims his right to the pool. There is a serious fight, the first round of which ends in a draw. Next day the two claimants face each other across the pool. But the other boy is deeply impressed with Ranji’s swimming and diving skill. So, instead of fighting, he befriends him and asks him to teach diving.

The Fight Word Notes Pages 45–46.

NCERT Solutions for Class 8 English It So Happened Chapter 6 The Fight

The Fight Complete Hindi Translation

Part-I
Ranji discovers ……. …….. in a draw. (Page 45)

  • रनजी एक वन में एक कुण्ड (छोटा तालाब) की खोज करता है और उसमें तैरने के लिए छलांग लगाता है।
  • वहाँ, इस बात पर कि कुण्ड पर किसका अधिकार है, उसके और किसी अन्य के बीच गंभीर परेशानी आ जाती है। एक भिड़त हो जाती है।
  • लड़ाई का प्रथम दौर बिना हार-जीत के समाप्त हो जाता है।

1. Ranji had …. ….. of rain. (Page 45)

रनजी, एक महीने से कम ही राजपुर में रह पाया था, जब उसने जंगल में एक कुण्ड की खोज की। गर्मी चरम सीमा पर थी और अभी उसका स्कूल नहीं खुला था और अभी तक इस अर्धपर्वतीय स्थान पर कोई मित्र न बना पाने के कारण वह अकेला उन पहाड़ियों और जंगलों के बीच काफी घूमता था जो कस्बे के चारों ओर अनन्त फैले हुए थे। वर्ष के उस समय गर्मी, अत्यन्त गर्मी थी, और रनजी बनियान और निकर में घूम रहा था-जमीन से ऊपर उड़ने वाली चॉक जैसी सफेद धूल से उसके भूरे पैर सफेद हो गए थे। पृथ्वी झुलस सी गई थी, घास भूरी हो गई थी, पेड़ निर्जीव से मुश्किल से हिल रहे थे, ठंडी हवा या तरोताजा करने वाली वर्षा की बौछार की प्रतीक्षा करते हुए।

2. It was on ….. …………. the plains. (Pages 45-46)

इस प्रकार के दिन-गर्म, थकावट भरे हुए-रनजी ने जंगल में एक कुण्ड खोजा। पानी में हल्की सी पारदर्शिता थी और आप कुण्ड की तली पर चिकनी, गोल कंकड़ों को देख सकते थे। कुण्ड को भरने के लिए, चट्टानों के झुण्ड के बीच से एक छोटी नदी निकल रही थी। मानसून के दौरान, यह नदी दहाड़ती हुई नदी बन जाती थी जो एक झरने की तरह पहाड़ियों से नीचे गिर जाती थी परन्तु गर्मी की ऋतु में वह मुश्किल से एक पतली धारा जैसी रह जाती थी। फिर भी चट्टानों के कारण, कुण्ड के भीतर पानी अटका रहता था और समतल भूमियों के कुण्डों की तरह वह पूर्णतया नहीं सूखता था।

3. When Ranji……………… ………. Sunlit water. (Page 46)

जब रनजी ने कुण्ड को देखा तो वह उसमें घुसने से नहीं हिचकिचाया। वह तैरने के लिए प्रायः अकेला या अपने मित्रों के साथ जाया करता था, जब वह अपने माता-पिता के साथ, राजपूताना मरुस्थल के बीच एक सूखे कस्बे में रहा करता था। वहाँ उसने केवल चिपचिपे, कीचड़ युक्त कुण्ड देखे थे, जिनमें भैंसें लोट-पोट होती थीं और औरतें कपड़े ६ गोती थीं। उसने इस प्रकार का कुण्ड कभी नहीं देखा था-इतना साफ, ठंडा और आकर्षक। वह पानी के बीच कूद पड़ा। उसके अंग लचकदार थे, उनमें बिल्कुल भी चर्बी नहीं थी और धूप में चमकते हुए पानी के पैबंदों में उसका काला शरीर चमक रहा था।

4. The next …… ……… here, Mister ? (Page 46)

अगले दिन वह दोबारा जंगल के कुण्ड के शीतल जल में अपने शरीर को ठण्डा करने के लिए आया। वह वहाँ स्वच्छ हरे जल में लगभग एक घंटे तक अन्दर जाता और बाहर निकलता रहा या चौड़े पत्तों वाले साल के वृक्षों की छाया में चिकनी पीली चट्टानों के ऊपर सीधा से लेटा रहा। जब वह उस प्रकार फैल कर लेटा हुआ था तो उसने एक दूसरे लड़के को कुछ दूरी पर खड़े हुए देखा जो उसकी तरफ शत्रुतापूर्ण तरीके से घूर रहा था। दूसरा लड़का रनजी से कुछ अधि क बड़ा, अधिक लम्बा और हट्टा-कट्टा था जिसकी नाक चौड़ी और मोटे-मोटे लाल होंठ थे। उसने रनजी को केवल यान से देखा ही था, और जब रनजी कुछ नहीं बोला, तो दूसरे ने पुकारा, “मिस्टर, तुम यहाँ क्या कर रहे हो?”

5. Ranji who ….. …………… you here. (Page 46)

रनजी जो मित्रता करने के लिए तैयार था दूसरे लड़के के शत्रुतापूर्ण स्वर से हक्का-बक्का रह गया। “मैं तैर रहा हूँ,” उसने उत्तर दिया, “तुम मेरे साथ क्यों नहीं शामिल हो जाते हो?” “मैं हमेशा अकेला ही तैरता हूँ,” दूसरे ने कहा, “यह मेरा कुण्ड है। मैंने तुम्हें यहाँ बुलाया नहीं था।”

6. The stranger ….. ………… like you. (Pages 46-47)

अजनबी अपने चौड़े पैरों को मजबूती से गाढ़ कर रनजी की ओर तेजी से बड़ा, जो अभी तक चट्टान के ऊपर बैठा हुआ था, और बोला (मानो इससे एक बार में ही मामला निपट जाएगा), “क्या तुम्हें मालूम नहीं है कि मैं एक योद्धा हूँ? मैं तुम्हारे जैसे गाँव में रहने वालों से जवाब नहीं चाहता हूँ।”

7. “So you like … ……… run away!” (Page 47)

“तो तुम गाँव वालों से लड़ना पसन्द करते हो?” रनजी बोला। “ठीक है, मैं गाँव वाला नहीं हूँ। मैं लड़ाकू हूँ।” “मैं योद्धा हूँ।”? “मैं लड़ाकू हूँ।” वे गतिरोध की स्थिति तक पहुंच चुके थे। एक ने कहा था वह योद्धा है, दूसरे ने स्वयं को लड़ाकू घोषित किया था। कहने के लिए बहुत थोड़ा बाकी बचा था। “तुम समझते हो न मैं योद्धा हूँ?” अजनबी यह समझते हुए बोला कि शायद यह सूचना रनजी के दिमाग में नहीं घुसी हो। “तुमको मैंने यही बात तीन बार कहते हुए सुना है,” रनजी ने उत्तर दिया। “तो फिर तुम भाग क्यों नहीं रहे हो?” “मैं तुम्हारे भागने का इंतजार कर रहा हूँ।”

8. “I will …. …… his cheek. (Page 47)

“मुझे तुम्हें पीटना होगा,” अजनबी बोला, हिंसक दृष्टिकोण अपनाते हुए और रनजी को हथेली दिखाते हुए (थप्पड़ मारने के भाव से)।
“मैं तुम्हें वैसा करते (थप्पड़ मारते हुए देखने का इन्तजार कर रहा हूँ,” रनजी ने कहा। ___ “तुम मुझे वैसा करते हुए देखोगे,” दूसरा लड़का बोला। रनजी ने इन्तजार किया। दूसरे लड़के ने विचित्र फुफकारने जैसी आवाज की। लगभग एक मिनट तक दोनों ने एक दूसरे की आँखों में घूर कर देखा। तब योद्धा लड़के ने, जितनी भी ताकत वह बटोर सकता था, उससे रनजी के चेहरे पर थप्पड़ मारा। रनजी को चक्कर आने लगा और वह डगमगा गया। उसके गालों पर अंगुलियों के मोटे-मोटे निशान पड़ गए।

9. “There you …. ……………. of the pool. (Page 47)

“अब संभलो!” उसके प्रतिद्वंदी ने आश्चर्य से कहा। “अब क्या तुम दफा हो जाओगे?” उत्तर देने के लिए रनजी ने अपनी बाजू ऊपर उठाई और दूसरे के चेहरे पर एक ताकतवर मुक्का दे मारा। फिर दोनों एक दूसरे के गले पर झपटे, चटटान पर लहराते हुए और रेत की तरफ लुढ़कते हुए, पलटियाँ लेते हुए उनकी टाँगें और हाथ निराशाजनक, हिंसात्मक संघर्ष में जकड़ी हुईं थीं। वे हाँफ रहे थे और एक-दूसरे की कोस रहे थे, पंजे और थप्पड़ मार रहे थे और लुढ़कते हुए वे दोनों कुण्ड के छिछले पानी में चले गए।

10. Even in ….. ………………. with difficulty. (Pages 47-48)

पानी में भी लड़ाई चलती रही जब वे तेजी से घबराकर बोलते हुए, और कीचड़ में सने एक दूसरे के सिर और गले को टटोलने लगे। परन्तु पाँच मिनट के घमासान, अवैज्ञानिक संघर्ष के बाद उनमें से कोई भी लड़का विजयी नहीं हुआ था। उनके शरीर थकावट से हाँफ रहे थे, एक-दूसरे से दूर खड़े, वे बोलने का भरसक प्रयत्न कर रहे थे। “अब-अब क्या तुम्हें महसूस हो रहा है-मैं एक योद्धा हूँ?” अजनबी हाँफता हुआ बोला। “क्या तुम जानते हो कि मैं लड़ाकू हूँ?” मुश्किल से रनजी बोला।

11. They gave a …….. …………. inspiration. (Page 48)

उन्होंने एक-दूसरे के उत्तरों पर क्षण-भर विचार किया और मौन के उस क्षण में उनकी जोर-जोर से ली गई सांसें और तेजी से उनके हृदय की धड़कनें ही (सुनाई पड़ती) थीं। “तब तुम कुण्ड को नहीं छोड़ोगे?” योद्धा लड़का बोला। “मैं इसे नहीं छोडूंगा,” रनजी बोला। “तव तो हमें लड़ाई जारी रखनी पड़ेगी,” दूसरा बोला। “ठीक है,” रनजी बोला। परन्तु उनमें से कोई भी लड़का नहीं हिला, न ही किसी ने भी पहल की। योद्धा लड़के को एक नया विचार सूझा।

12. We will. ………………. routes. (Pages 48-49)

“हम कल लड़ाई जारी रखेंगें,” वह बोला। “यदि तुम कल यहाँ आने का साहस करोगे, तो हम लड़ाई जारी रखेंगे और में वह रहम नहीं दिखाऊँगा जो मैंने आज दिखाया है।” “मैं कल आऊँगा,” रनजी बोला, “मैं तुम्हारे लिए तैयार रहूँगा।” । तब वे एक-दूसरे से परे हट गए और अपनी-अपनी चट्टानों पर जाकर, अपने-अपने कपड़े पहन लिए, और भिन्न-भिन्न मार्गों से जंगल को छोड़ गए।

Part-II

Next day ……………… for something. (Page 49)

  • अगले दिन, दोनों दावेदार कुण्ड के आर-पार एक-दूसरे के सामने आ जाते हैं।
  • वे चुनौती देते हैं और एक-दूसरे को चुनौती-भरा उत्तर देते हैं।
  • वे महसूस करते हैं कि सर्वोत्तम समाधान एक-दूसरे के साथ लड़ाई करने में नहीं है परन्तु किसी साझी बात के लिए मिलकर लड़ने में है।

13. When Ranji …. jalebis. (Page 49)

जब रनजी घर गया तो उसे चेहरे, टाँगों और बाजुओं के ऊपर लगे हुए घावों और खरोचों के बारे में स्पष्टीकरण देने में मुश्किल आई। इस तथ्य को छुपाना कठिन था कि उसने एक असाधारण हिंसक लड़ाई की थी, और उसकी माँ ने जिद की थी कि दिन के शेष भाग में वह घर पर ही ठहरा करे। उस शाम को, हालांकि वह घर से खिसक गया और बाज़ार में चला गया जहाँ उसको रंगीन लेमोनेड पीकर और केले का पत्ता भरकर जलेबियाँ खाकर उसे राहत और धीरज मिला।

14. He had .. ……… equal ferocity. (Pages 49-50)

उसने लेमोनेड समाप्त किया ही था कि सड़क पर अपने प्रतिद्वंद्वी को आते हुए देखा। उसके मन में यह विचार आया कि दूसरी ओर मुँह फेर ले और दूसरी भावना थी कि अपने शत्रु के ऊपर लेमोनेड की बोतल फैंक दे। परन्तु उसने इन दोनों में से कोई बात नहीं की। इसकी बजाए वह भूमि पर खड़े होकर वहाँ से गुजरते अपने शत्रु को गुस्से से देखता रहा। और योद्धा लड़के ने भी कुछ नहीं कहा परन्तु उतनी ही भयंकर भावना से पीछे मुड़कर उसकी तरफ गुस्से से देखता रहा।

15. The next. the forest. (Page 50)

अगला दिन, गत दिन की तरह ही गर्म था। रनजी, कमजोर और सुस्त महसूस कर रहा था और लड़ाई करने के लिए बिल्कुल इच्छुक नहीं था। पिछले दिन की भिड़न्त से उसका शरीर कठोर हो गया था और दुःख रहा था। परन्तु वह चुनौती से इनकार नहीं कर सकता था। कुण्ड पर न पहुंचने का अर्थ था हार मान लेना। परन्तु वह चुपचाप अपनी हार को स्वीकार नहीं कर सकता था।

उसे अपने विरोधी को अन्त तक चुनौती देनी थी या उसे हराना था क्योंकि केवल तब ही उसे सम्मान मिल सकता था। यदि वह अब आत्मसमर्पण कर देता है तो सदा के लिए हार हो जाएगी; परन्तु आज लड़ाई करने के बाद और हार जाने के बाद वह फिर से लड़ाई करने और फिर हारने के लिए स्वतंत्र होगा। जब तक वह लड़ता रहेगा, जंगल के कुण्ड पर आने का उसका अधिकार बना रहेगा।

16. He was ……….. ………………. his opponent. (Page 51)

उसे आधी-अधूरी उम्मीद थी कि शायद योद्धा चुनौती को भूल गया होगा परन्तु यह उम्मीदें धराशायी हो गयी जब उसने शत्रु को कुण्ड के दूसरी तरफ एक चट्टान के ऊपर कमर तक नंगे बैठे हुए देखा। योद्धा अपने शरीर पर तेल मल रहा था। उसने रनजी को साल के वृक्षों के नीचे देखा और कुण्ड के पानी के आर-पार चुनौती देते हुए पुकारा। “इस तरफ आ जाओ और लड़ो,” वह चिल्लाया। परन्तु रनजी, अपने विरोधी द्वारा रखी गई किसी शर्त को मानने को तैयार नहीं था।

17. Come this amaze ment. (Page 51)

“इस तरफ आ जाओ. और लड़ो!” उतनी ही शक्ति से वह भी चिल्लाया। “तैरकर इधर आ जाओ और मेरे साथ यहाँ लड़ाई करो!” दूसरे ने पुकार कर कहा “या शायद तुम कुण्ड की पूरी लम्बाई को तैर कर पार नहीं कर सकते हो?” लेकिन रनजी बिना थके हुए कुण्ड की लम्बाई को एक दर्जन बार पार कर सकता था और उसमें वह योद्धा को अपनी श्रेष्ठता दिखाएगा। इसलिए, अपनी बनियान उतारकर उसने सीधे, पानी में गोता लगाया और चाकू की तरह उसे पार करते हुए और मुश्किल से एक डुबकी के साथ ऊपर सतह पर आ गया। योद्धा का मुँह आश्चर्य से खुला ही रह गया।

18. “You can dive.. … the trees. (Page 51)
“तुम गोता लगा सकते हो!” वह हैरानी से बोला। “यह तो बहुत आसान है”, पानी की चीरते हुए और दूसरी चुनौती की प्रतीक्षा करते हुए, रनजी ने कहा, “क्या तुम गोता नहीं लगा सकते हो?”

. “नहीं,” दूसरा बोला। “मैं तो सीधा नीचे कूद जाता हूँ, परन्तु यदि तुम मुझे बता दोगे कि यह कैसे लगाया जाता है तो गोता लगा दूँगा।”
“यह आसान है,” रनजी बोला। “चट्टान के ऊपर खड़े हो जाओ, अपने हाथों को बाहर की तरफ खींचो और अपने मन में अपने पैर उठाने का विचार करो।”

योद्धा लड़का तन कर और सीधा खड़ा हो गया, अपने बाजू पसारे और स्वयं को पानी में गिरा दिया। वह सीधा अपने पेट के बल गिरा और वैसा धमाका हुआ कि पेड़ों से पक्षी चीखते हुए चले गए (उड़ गए)।

19. Ranji dissolved …….. …………. it again. (Pages 51-52)

रनजी की जोर से हँसी फूट पड़ी। “क्या तुम कुण्ड को खाली करने का प्रयत्न कर रहे हो?” उसने पूछा जैसे ही योद्धा लड़का एक छोटी व्हेल के फहारे की तरह मुँह से पानी निकालता हुआ ऊपर सतह पर आया। “क्या यह ठीक नहीं था?” स्पष्ट रूप से अपने करतबों पर गर्व करते हुए, लड़के ने पूछा। “बहुत अच्छा नहीं था,” रनजी ने कहा। “तुम्हें अधिक अभ्यास करना चाहिए। देखो, मैं उसे दोबारा करूँगा।”

20. And pulling ………….. …. I will try it. (Page 52)

और स्वयं को चट्टान के ऊपर खींचकर उसने एक और अचूक गोता लगाया। दूसरा लड़का, इसके बाहर आने की प्रतीक्षा कर रहा था, परन्तु पानी के नीचे-नीचे तैरते हुए, रनजी ने उसका चक्कर लगाया और पीछे से उसके ऊपर आ गया। “तुमने वैसा किस प्रकार किया?” आश्चर्यचकित योद्धा ने पूछा। “क्या तुम पानी के अन्दर नहीं तैर सकते हो?” रनजी ने पूछा। “नहीं, परन्तु मैं उसकी कोशिश करूँगा।”

21. The warrior. …….. teach you. (Page 52)

योद्धा लड़के ने कुण्ड की तली में गोता लगाने का पुरजोर प्रयत्न किया और वास्तव में उसने सोचा था कि वह सीधा नीचे चला गया है हालांकि एक बत्तख की तरह उसकी कमर सतह से ऊपर रहे। परन्तु रनजी ने उसे हतोत्साहित नहीं किया। “यह बुरा नहीं था,” वह बोला, “परन्तु तुम्हें काफी अभ्यास की जरूरत है।” उसके शत्रु ने पूछा, “क्या तुम मुझे सिखाओगे?” “यदि तुम चाहते हो तो मैं तुम्हें सिखा दूंगा।”

22. You must ………….. …… his flesh. (Page 52)

“तुम्हें मुझे अवश्य सिखाना है। तुम अगर मुझे नहीं सिखाओगे तो मैं तुम्हारी पिटाई करूंगा। क्या तुम प्रतिदिन यहाँ आकर मुझे सिखाया करोगे?”
“यदि तुम चाहते हो,” रनजी ने कहा। वे पानी से बाहर आ गये थे, और वे एक चिकनी सलेटी (रंग की) चट्टान पर साथ-साथ बैठ गए।
“मेरा नाम सूरज है,” योद्धा लड़के ने कहा, “तुम्हारा क्या नाम है?” “रनजी।”
“मैं ताकतवर हूँ, क्या मैं नहीं हूँ?” सूरज ने अपना बाजू मोड़ते हुए कहा ताकि उसके माँस की सफेदी को बढ़ाते हुए माँसपेशी, गेंद की तरह खड़ी हो गई।

23. You are …… …… isn’t it ? (Pages 52-53)

“तुम शक्तिशाली हो,” रनजी ने कहा, “तुम सचमुच पहलवान हो।” “एक दिन में विश्व का कुश्ती चैम्पियन बनूँगा,” अपनी जांघ पीटते हुए जो उसके हाथ के प्रभाव से हिलती थी, सूरज बोला। उसने आलोचनात्मक ढंग से रनजी के कठोर, पतले शरीर को देखा। “तुम, स्वयं भी काफी मजबूत हो,” उसने स्वीकार किया। “परन्तु तुम्हारे अन्दर अधिक हड्डियाँ हैं। मैं जानता हूँ, तुम लोग अधिक नहीं खाते हो। तुम अवश्य आकर मेरे साथ भोजन किया करो। मैं प्रतिदिन एक सेर दूध पीता हूँ। हमारे पास अपनी गाय है। मेरे मित्र बन जाओ और मैं तुम्हें अपने बराबर का पहलवान बना दूंगा। मुझे पता है-अगर तुम मुझे गोता लगाना और पानी के नीचे .. तैरना सिखा दोगे, तो मैं तुम्हें पहलवान बना दूंगा। वह उचित है, क्या वैसा नहीं है?”

24. That. friends,” said Ranji. (Page 53)

“वह उचित है!” रनजी ने कहा, हालांकि उसे संशय था कि उसे उस आदान-प्रदान में लाभ नहीं होने वाला था। सूरज ने अपने से छोटे बालक के चारों ओर अपनी बाजू डाली और बोला, “अब हम मित्र हैं, हाँ?” उन्होंने एक दूसरे की तरफ ईमानदारी वाली टकटकी भरी नजरों से देखा, और उसी समय उनमें प्यार और समझ का जन्म हुआ। “हम मित्र हैं,” रनजी ने कहा।

25. The birds …………. … won the day (Page 53)

पक्षी दोबारा अपनी टहनियों के ऊपर आ बैठे थे, और कुण्ड, साल के वृक्षों की छाया में शान्त और पारदर्शक था। “यह हमारा कुण्ड है,” सूरज बोला। “हमारी अनुमति के बिना यहाँ कोई नहीं आ सकता। कौन साहस करेगा?” “कौन साहस करेगा?” रनजी, इस ज्ञान से मुस्कुराते हुए बोला कि उस दिन उसने विजय प्राप्त कर ली थी।

The Fight MCQs Multiple Choice Questions

Question 1.
Where was the pool of water ?
(a) Village
(b) Forest
(c) Desert
(d) Bazaar
Answer:
(b) Forest

Question 2.
Where had Ranji seen such pools before ?
(a) Village town
(b) Home town
(c) Rajputana desert
(d) Sahara Desert
Answer:
(c) Rajputana desert

Question 3.
Who was stronger between the two ?
(a) Ranji
(b) Suraj
(c) No body
(d) Both are equal
Answer:
(b) Suraj

Question 4.
Who was the best swimmer ?
(a) Suraj
(b) Amol
(c) Ranji
(d) No body
Answer:
(c) Ranji

Question 5.
What did Ranji drink in the market ?
(a) Coca cola
(b) Lemonade
(c) Ice-cream shake
(d) None of the above
Answer:
(b) Lemonade

Question 6.
Who was a wrestler ?
(a) Ranji
(b) Suraj
(c) Vikrant
(d) None of the above
Answer:
(b) Suraj

Question 7.
“Then we will have to continue the fight.” Who spoke these words ?
(a) The wrestler boy
(b) Ranji
(c) Ranji’s friend
(d) None of the above
Answer:
(a) The wrestler boy

The Complete Educational Website

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *