CBSE class 9 English Three Men in a Boat – Summary of the Novel

CBSE class 9 English Three Men in a Boat – Summary of the Novel

Three Hypochondriacs—Talk only of Diseases

There were four of them—three men and a dog. Three longtime friends, George Wingrave (George), Carl Hentschel (Harris) and the narrator, Jerome K. Jerome, were sitting in a room, smoking and talking about how physically bad they were from a medical point of view. The narrator Jerome suffered from every disease except the housemaid’s knee. He was an interesting case from medical point of view-‘a hospital’ in himself. Harris complained of extraordinary fits of giddiness. George also fancied that he was ill. All the three came to the unanimous decision that overwork had produced a general depression throughout their physical and mental systems. All of them needed ‘rest and a complete change’. They wanted to go to new places far from the maddening crowd-out of the reach of the noisy world. George suggested; “Let’s go up the river”. They could enjoy fresh air, exercise and peace. The change of scene would occupy their minds and the hard work would give them a good appetite and sleep. The suggestion was approved by all except Montmorency, the dog.

तीनों अपनी बीमारियों से चिंतित हैं

वे चार प्राणी थे-तीन मनुष्य और एक कुत्ता। जीवन संगी तीन मित्र , George Wingrave (George), Carl Hentschel (Harris) और वर्णनकर्ता (Jerome K). Jerome, एक कमरे में, धुम्रपान करते हुए यह बहस कर रहे थे कि स्वास्थ्य के दृष्टिकोण से वे कितने बुरे हैं। Jerome सिर्फ एक “house-maid’s knee” नामक बीमारी को छोड़ हर बीमारी से पीड़ित था। चिकित्सा-दृष्टिकोण से यह एक रोचक मामला था। वह स्वयं में ही एक चिकित्सालय था। Harris असाधारण रूप में चक्कर आने के दौरों की शिकायत करता था। George भी यह सोचा करता था कि वह बीमार था। तीनों एक सर्वमान्य फैसले पर सहमत हुए कि अधिक काम करने से उनके शारीरिक और मानसिक प्रणालियों में एक आम अवनमन (अवसाद) पैदा हो गया था। उन सभी को आराम और (जगह) परिवर्तन की आवश्यकता थी। वे धक्कामुक्की, शोर और पागल बना देने वाली भीड़-भाड़ से दूर नयी जगहों पर जाना चाहते थे। George ने सुझाव दिया “चलो नदी पर चला जाए।” वे वहां ताजी हवा, व्यायाम और शांति का आनन्द ले सकते थे। दृश्य के परिवर्तन से उनका दिमाग खाली नहीं रहेगा और मेहनत करने से उन्हें अच्छी भूख लगेगी और नींद आयेगी। यह सुझाव सिवाय Montmorency (कुत्ते) को छोड़ सभी को स्वीकार्य था।

Discuss Plans

They pulled out the maps, and discussed plans. They decided to start on the following Saturday from Kingston. Camping out in rainy weather was not pleasant. So, it was decided and compromised that they would camp out and sleep out on clear and fine nights. During rainy nights, they would stay in hotels, inns or pubs. Even the dog welcomed that compromise. They made a list of things to be carried with them. The river Thames would not allow the navigation of a boat sufficiently large and heavily loaded. George gave a practical suggestion that they could carry with them only the things that were most necessary and they couldn’t do without. A heavily loaded boat could be cumbersome and even dangerous to manage. Then they discussed the food question. All the three agreed that they would not use an oil stove for cooking. Once they had taken up an oil stove and kept it in the nose of the boat. It oozed up and saturated the scenery and spoiled the atmosphere and their moods. They confined themselves to methylated spirit. For breakfast and lunch George suggested eggs and bacon as they were easy to cook. Cold meat, tea, bread and butter, and jam could be taken. But they avoided cheese. Cheese like oil, has too much odour. They took up the whisky and didn’t take beer or- wine. They make people sleepy and heavy. They didn’t believe in the “weather forecast” swindle. The weather was a thing which was beyond their control. The newspaper forecast was generally misleading. It forecasts precisely the opposite of what is going to happen today. They drove off in great style and arrived at Waterloo. Nobody at Waterloo did ever know anything about the train. Jerome and Harris were unable to find the correct train at Waterloo station. So they had to bribe half a crown to a train driver to take his train to Kingston. So Jerome and Harris made their journey to Kingston by train. At Kingston they collected their hired boat and started their journey. Later they met George up-river at Weybridge. The remainder of the story relates their river journey and the incidents that occur.

योजनाओं पर विचार करते हैं

उन्होंने नक्शे निकाले और योजनाओं पर बात-चीत की। उन्होंने अगले शनिवार से Kingston से यात्रा शुरू करने का निश्चय किया। बारिश में बाहर कैम्प लगाना कोई सुहावनी चीज नहीं थी। इसलिए यह फैसला और समझौता हुआ कि वे साफ और सुहावनी रातों में कैम्प में रहेंगे। बारिश की रातों के दौरान, वे होटलों, सरायों या शराबखानों में सोयेंगे। कुत्ते ने भी इस समझौते का अभिवादन किया। उन्होंने अपने साथ ले जाने वाली चीजों की एक सूची बना ली। Thames नदी काफी लम्बी और भारी किस्तियों को सुगमता से नहीं चलने देगी। George ने एक व्यवहारिक सुझाव दिया कि वे अपने साथ केवल उन्हीं वस्तुओं को ले जाएँ जो बहुत जरूरी हो और जिनके बिना उनका काम न हो। भार से लदी एक किस्ती नियंत्रण के हिसाब से भरकम और खतरनाक भी हो सकती थी। फिर उन्होंने खाने के प्रश्न पर विचार किया। तीनों इस बात पर सहमत थे कि पकाने के लिये (मिट्टी के) तेल के स्टोव को न लिया जाये। वह हवा और वातावरण में फैल कर दृश्य और चित्र को खराब कर देता है। उन्होंने सिर्फ methylated spirit तक सीमित रहने का निर्णय किया। नाश्ते और दोपहर के भोजन के लिये George ने अण्डों और नमकीन बेकन का सुझाव दिया क्योंकि वे पकाने में आसान थे। ठण्डा गोश्त, चाय, ब्रैड, मक्खन और जैम लिये जा सकते थे। लेकिन उन्होंने पनीर को बाहर रखा। मिट्टी के तेल की तरह पनीर भी बहुत गंध देता है। उन्होंने बीयर और वाइन न ले कर Whisky साथ ली। वे मौसम भविष्यवाणियों के घपलों में विश्वास नहीं करते थे। मौसम उनकी पहुंच के बाहर की चीज थी। अखबार की खबर अमूमन भ्रामक होती थी। वह जो (मौसम) आज होने वाला है ठीक उससे उल्टी भविष्यवाणी करता है। वे बड़ी शान-शौकत से चल कर Waterloo नामक स्थान पर पहुंचे। Waterloo स्टेशन पर कोई भी गाड़ी के बारे में कुछ भी नहीं जनता था।  Jerome और  Harris Waterloo स्टेशन पर सही रेलगाड़ी का पता नहीं लगा सका। इसीलिये उन्हें गाड़ी को Kingston तक ले जाने के लिये उसके चालक को एक क्राउन रिश्वत में देनी पड़ी। इस प्रकार Jerome और Harris ने रेलगाड़ी से Kingston तक की यात्रा की। Kingston है।
पर उन्होंने अपनी किराये पर ली हुई किश्ती को लिया और अपनी यात्रा आरम्भ कर दी। बाद में नदी पर Weybridge नामक स्थान पर वे George से मिले। बाकी की कहानी उनकी नदी यात्रा और वहां घटित किस्सों का वर्णन करती।

Kingston and Hampton Court on Thames

It was a glorious late spring morning. The grey old palace of Tudors at Kingston made a sunny and bright picture. The river front looked picturesque. Saxon kings were crowned at Kingston. Great Caesar crossed the river there. The Roman army camped upon its sloping uplands. The old red-bricks buildings and oak staircases spoke very plainly of days when Kingston was a royal borough. They ran the boat on past Hampton Court. It looked so peaceful, quiet and a ‘dear old place’ to ramble round in the early morning. Hampton Court Maze was one of the largest in Europe. Harris led a group of twenty people but was lost in the maze. Whatever way they turned, they always found themselves in the middle. They could come out of the maze till one of the old keepers came back and helped them to be out. They passed through Mousley Lock (dam). They saw people in bright blazers, gay caps, silken rugs, cloaks, hats and ribbons. All the inhabitants of Hampton and Mousley come and wander round the Lock (dam) in boating costumes with their dogs. Seeing them flirting and joking, watching the boats and beautiful ladies in pretty coloured dresses, is ‘one of the gayest sights near the old London town’. It was a lovely landscape. It was idyllic and poetical. Harris was particularly interested in tombs, graves and epitaphs. The thought of not seeing Mrs. Thomas’s grave made him crazy.

Thames पर Kingston air Hampton Court

यह वसंत के बाद की एक शानदार सुबह थी। Kingston नामक स्थान पर Tudor शासकों का एक प्राचीन महल चटकीला और चमकता हुआ दृश्य प्रस्तुत करता था। नदी के सामने का हिस्सा बहुत ही सुन्दर दूश्य प्रस्तुत करता था। Kingston में Saxon राजाओं की ताजपोशी की जाती थी। वहाँ पर सीजर महान ने पुल को पार किया था। रोमन फौज ने इसके झुकावदार पहाड़ियों पर अपना कैम्प लगाया था। लाल ईटों से बनी इमारतें और बरगद की लकड़ियों से बनी सीढ़ियाँ स्पष्ट रूप से उन दिनों के बारे में बयान कर रही थीं जब Kingston एक शाही जागीर थी। उनकी किश्ती Hampton Court के पास से गुजरी। वह जल्दी सुबह घुमने के लिए एक अति शांत और सुन्दर स्थान लगा। Hampton Court का भूल-भूलैया यूरोप के सबसे बड़े भूल-भूलैयों में से एक था। Harris ने वहां 20 लोगों का नेतृत्व किया लेकिन वह भूल-भूलैया में खो गया। जिस किसी भी दिशा में वे मुड़ते, वे स्वयं को सदैव मध्य में ही पाते थे। वे भूलभूलैये से तब तक बाहर नहीं निकल पाये जब तक एक पुराने रक्षक ने वहाँ वापस आकर उन्हें बाहर नहीं निकाल दिया। वे Mousley के बाँध से गुजरे। उन्होंने लोगों को रंगीन कोटों, चटकीली टोपियों, रेशम के वस्त्रों, चोगो, हैटों और फीतों में देखा। Hampton और Mousley के सभी लोग नौका परिधान धारण किये अपने कुत्तों के साथ बाँध के चारों ओर घुमते हैं। उन्हें आशिकी करते, मजाक करते और किश्तियों में देखते और सुन्दर औरतों को सुन्दर रंगों के परिधानों में देखना London शहर के समीप सबसे सुन्दर नजारों में से एक नजारा है। यह एक नजारा था। यह एक रमणीक और काव्यात्मक दृश्य था। Harris विशेष रूप से गुम्बदों, कब्रों और शोकलेखों मे रूचि रखता था। Mrs. Thomas की कब्रों को न देख पाने का विचार आते ही वह पागल सा हो जाता था।

Harris Sings A Comic Song

They stopped under the hills by Kempton Park and lunched. Harris sang a comic song at a party and mixed up and messed up things. He never realized “what an ass” he was making of himself. Then they passed Oatlands Park on the right bank of Thames. Henry VIII had once lived in it. The late Duchess of York, who lived at Oatlands, was very fond of dogs. She had a special graveyard made for her fifty dogs. Hilliford and Shepperton were both pretty little spots touching the river but there was nothing remarkable about them. Jerome, Harris and George originally wanted to go on to Magna Charta Island. But they decided to have their supper first and go to bed. They fastened the boat to the spreading roots of a great elm-tree. After having a good supper, they felt satisfied with themselves and the world. Even the dog, Montmorency gave the first sign of contentment and spread his legs out.

Harris ‘हास्य गाना’ गाता हैं

पहाड़ियों के नीचे Kempton Park मैं वे रुके और दोपहर का भोजन किया। Harris ने एक पार्टी में एक उपहासपूर्ण गाना गाया और चीजों को मिलाकर समस्या पैदा कर दी। उसे यह कभी अहसास नहीं हुआ कि वहां वह अपने को कितना बड़ा मूर्ख बना रहा था। फिर वे Thames नदी के दायें किनारे पर स्थित  Oatlands Park से गुजरे। एक बार  Henry VIII यहाँ पर रहा था। स्वर्गीय Duchess of York कुत्तों की बहुत शौकीन थी और उसने अपने 50 कुत्तों के लिए एक विशेष कब्रिस्तान बनाया था। Hillford और Shepperton नदी को छूते हुए दो सुन्दर स्थान थे लेकिन उनके बारे में बताने की कोई भी उल्लेखनीय बात नहीं थी l Jerome, Harris और George की मूल योजना पहले Magna Charta टापू पर जाने की थी। लेकिन उन्होंने पहले अपने रात्रि भोज करने और फिर सोने का निर्णय किया। उन्होंने एक फैली हुई जड़ों वाले विशाल Elm वृक्ष से किश्ती को बांध दिया। भरपूर रात्रि भोज करने के बाद वे स्वयं और संसार से सन्तुष्ट अनुभव कर रहे थे। यहाँ तक कि कुत्ते Montmorency ने भी सन्तुष्टि की प्रथम अभिव्यक्ति अपनी टांगें पसार कर प्रकट की।

Chilly Cold

The morning looked damp and chilly. George and Harris retired into the boat. It was bitterly cold and the wind cut like a knife. Even Jerome dropped the idea of having a bath. But as he turned, the branch on which he was standing gave way. He and the towel went in together with a heavy splash. He was out mid-stream with a gallon of Thames water inside him.

तिकी ठंड

प्रात: नमीभरी और कपकपा देने वाली थी। George और Harris किश्ती में आराम करने चले गये। बहुत अधिक ठंड थी और हवा चाकू की तरह काटती थी। यहाँ तक कि Jerome ने स्नान करने का विचार त्याग दिया लेकिन जैसे ही वह जिस टहनी पर खड़ा था वहां से मुड़ा वह टहनी टूट गयी। धम्म के साथ वह तौलिये समेत नदी में गिर गया। वह नदी के बीच में था और Thames नदी का पानी उसके अन्दर चला गया था।

Magna Charta Island

They went over to Magna Charta Island. They had a look at the stone which stood in the cottage there. The great Charter was said to have been signed on it. Then they saw the ruins of an old priory where Henry VIII is said to have waited for and met Anny Boleyn. They found Marlow one of the pleasantest river centres. It was a bustling and lively little town. It was while floating in his boat that the great romantic poet Shelley, who was then living at Marlow, wrote, his famous poem ‘The Revolt of Islam The ‘only subject’ on which the dog, Montmorency and the narrator had serious differences of opinion was related to cats. Jerome liked cats while Montmorency didn’t. They all agreed that as a change from towing, Harris would steer the boat and George and Jerome would scull or row with oars. The narrator (Jerome) always felt that he was doing more work than he should do. But he always took a great pride in his work. He always believed that works kept him in a better state of preservation.

Magna Charta टापू

वे Magna Charta टापू पर गये। उन्होंने कुटिया में रखे हुए वहां एक पत्थर को देखा। जिसके बारे में यह कहा जाता है कि उस पर महान चार्टर पर हस्ताक्षर हुए थे। फिर उन्होंने खडहर हुए एक गिरजाघर को देखा जहाँ Henry VIII ने Anne Boleyn की प्रतीक्षा की और वह उससे मिला था। उन्हें Marlow एक बहुत सुहावना नदी का केन्द्र लगा। वह एक रौनक भरा और सजीव कस्बा था। अपनी किश्ती में नौकायन करते हुए महान रोमांटिक कवि Shelley ने अपनी प्रसिद्व  कविता “The Revolt of Islam की रचना की थी, जो उस समय Marlow में रह रहा था। केवल एक ही विषय जिस पर वर्णनकर्ता और कुत्ते Montmorency के गम्भीर मतभेद थे वह था-बिल्लियाँ। Jerome को बिल्लियों से प्रेम करता था परन्तु Montmorency को नहीं। वे सभी इस बात पर सहमत थे कि Harris किश्ती का संचालन करेगा और George और Jerome चप्पुओं से उसे चलायेंगे। वर्णनकर्ता Jerome सदैव यह अनुभव करता था कि उसे जितना काम करना चाहिये वह उससे अधिक काम कर रहा था। लेकिन उसे अपने काम पर गर्व था। वह सदैव यह विश्वास करता था कि काम उसे बेहतर स्थिति में रखता था।

Reading, Streatley and Goring

They came in sight of Reading about eleven. They found the river ‘dirty and dismal’ there. Parliament was rushed off to Reading during a plague at West Minster in 1625. The ancient town of Streatley was like other riverside towns and villages. They stayed for two days at Streatley and got their clothes washed. But the dirt contained in the river worked into their clothes. The washerwoman charged just three times the usual price to wash them.
The area adjoining Streatley and Goring is a great fishing centre. The river had plenty of pike, roach, dace, gudgeon and eels. One could sit and fish for them all day. They left Streatley next morning and pulled up to Cullham. They slept under the canvas, in the backwater there. They passed through Iffley Lock at about half -past twelve. There they cleaned up the boat. Between Iffley and Oxford is the most difficult part of the river. First, the current drove them on to the right bank, and then on to the left, then into the middle. During this period a good deal of bad language was used by them. Everybody always turned exceptionally irritable on the river. The air of the river had generally a demoralising effect even on the boatmen. They used language, which, no doubt, they regretted in their calmer moments.

Reading, Streatley और Goring

ग्यारह बजे उन्हें Reading नजर आया। वहां उन्हें नदी ‘गन्दी और उदास लगी’। 1625 ई. में Westminster में प्लेग फूट पड़ने पर पार्लियामेंट को Reading में शीघ्र ही स्थानान्तरण कर दिया गया। नदी किनारे पर स्थित प्राचीन कस्बा Streatley दूसरे नदी किनारों वाले गाँवों और कस्बों जैसा था। वे दो दिन Streatley में रूके और अपने कपड़ों को धोया। लेकिन नदी में व्याप्त गन्दगी उन के कपड़ों में समा गयी थी। धोबिन ने उन्हें धोने के लिये आम कपड़ों से तीन गुणा ज्यादा पैसे वसूल किये। Streatley और Goring के बीच का क्षेत्र मछली पकड़ने का एक बड़ा केन्द्र है l नदी में वहां काफी pike, roach, dace, gudeon और eels मछलियां थी। सारा दिन वहाँ बैठकर उन्हें पकड़ा जा सकता था। उन्होंने अगली सुबह Streatley को छोड़ दिया और किस्ती खिच कर Culham तक ले आये। वे बैक-वाटर में बरसाती के नीचे सोये। लगभग साढ़े बारह बजे वे Iffley बाँध से गुजरे। वहां उन्होंने किश्ती को धोया। Iffley और Oxford के बीच का क्षेत्र नदी का सब से कठिन क्षेत्र है। पहले तो पानी की धारें उन्हें दायें किनारे ले गयी और फिर बायें किनारे और फिर मध्य में। इस दौरान उन्होंने आपस में काफी बुरी भाषा का आदान-प्रदान किया। नदी पर आकर हर कोई असाधारण रूप से चिड़चिड़ा हो जाता है। नाविकों पर भी नदी का निराशाजनक असर हो गया। उन्होंने उस भाषा का प्रयोग किया जिन पर नि:सन्देह, उन्होंने शान्त क्षणों में अफसोस जाहिर किया।

Homeward Journey

They spent two very pleasant days at Oxford. Montmorency thought he had got to heaven. He found plenty of dogs in Oxford. The dog had eleven fights on the first and fourteen on the second day. The weather changed on the third day. They started from Oxford upon their homeward journey in the midst of a steady drizzle. Sunlight is the lifeblood of Nature and so is of the river. The river – with the sunlight flashing from its dancing wavelets is a golden fairy stream. And the same river on a chill and dull day is like a spirit-haunted mass of water. The rain continued to pour down the second day too. They sat wrapped up in their overcoats under the canvas. George observed that if they continued further they would contract their certain deaths. They could catch a train from Pangbourne and could reach the town in comfortable time for dinner. Nobody spoke and they looked at one another. They looked up and down the river but there was not a soul in sight. Twenty minutes later all the three followed by the dog were seen creeping stealthily towards the railway station. For the last ten days and more, they had been living on cold meat, coke, bread and jam. The sight of clean napkins and long loaves and the smell of French sauces whetted their appetite. Reaching his hand out for his glass of Burgundy, Harris remarked: “Well, we have had a pleasant trip and my hearty thanks for it to old Father Thames.” The dog gave a short bark to show his agreement.

घर वापसी की यात्र

उन्होंने व्गवितक में दो बहुत ही सुहाने दिन बिताये। Montmorency को अनुभव हुआ कि वह स्वर्ग में आ गया था। Oxford में उसकी उनके कुत्तों से मुलाकात हुई। कुत्ते ने पहले दिन 11 लड़ाईयाँ और दूसरे दिन 14 लड़ाईयाँ लड़ी। तीसरे दिन मौसम बदल गया। लगातार बूंदाबादी में उन्होंने Oxford से अपनी घर वापसी की यात्रा शुरू कर दी। सूर्य प्रकाश प्रकृति का जीवन रक्त है और इसी प्रकार नदी का भी। उसकी लहरों पर चमचमाती सूर्य की किरणें एक परी तुल्य धारा बना देती हैं। और वह नदी एक ठण्डे और उदास दिन पर भूतिया पानी पिण्ड समान दिखायी देती है। दूसरे दिन भी बारिश होती रही। बरसाती के नीचे वे अपने ओवरकोटों में लिपटे बैठे रहे। George ने अनुभव किया कि यदि वे आगे ऐसे ही चलते रहे तो अपनी मौत को दावत देंगे। वे Pangblourne से गाड़ी में ठीक समय रात्रि भोज पर शहर में पहुँच सकते थे। कोई भी नहीं बोला पर वे एक दूसरे की ओर देखते रहे। उन्होंने ऊपर नीचे नदी के चारों ओर देखा और उन्हें वहाँ कोई भी दिखायी नहीं दिया। बीस मिनट बाद तीनों को कुत्ते के साथ चुपके से चोरों की तरह स्टेशन की ओर जाता देखा गया। पिछले दस या अधिक दिनों से वह ठण्डे गोश्त, कोक, ब्रैड और जैम पर जिन्दा था। नैपकिन और लम्बी रोटियों के नजारे और French Sauces की सुगन्ध ने उसकी भूख को तेजी से जगा दिया। Burgundy के गिलास की ओर अपना हाथ बढ़ाते हुए Harris ने कहा, “खेर, हमारी यात्रा बहुत सुहावनी रही। और मैं इसके लिये तहेदिल से बूढ़े पिता Thames का शुक्रिया अदा करता हूँ।” कुत्ता अपनी स्वीकृति दिखाते हुए थोड़ा-सा भौंक दिया।

The Complete Educational Website

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *